घर पे बस ५ मिनट में बनाये घरेलु हैंड सैनिटाइज़र!

आज कल दुकानों में ऐसे कई पदार्थ और सैनिटाइज़र उपलब्ध हैं जो की उतने ही खतरनाक हैं जितने की कीटाणु | ऐसे हालात में क्यों न आप खुदसे ही सैनिटाइज़र घर पे बनाये? घर पे ये आसानी से बनते हैं और इसे बच्चे से लेके बुजुर्गों तक सब बना सकते हैं | आप इसे बनाते हुए अपने बच्चो के साथ साफ़ सफाई की बाते कर सकते है जिससे बच्चों को वैयक्तिक स्वच्छता के बारे में ज्ञान भी प्राप्त होगा। आप घर पे सैनिटाइज़र बनाके पैसे भी बचा सकते हैं और रोग मुक्त भी रहे सकते हैं |

Home Made Hand Sanitizer

घर के सैनिटाइज़र में क्या तत्त्व होते हैं?

इस सैनिटाइज़र का सबसे महत्वपूर्ण तत्त्व अल्कोहल होता है जिसका भाग लगभग ६०% होना चाहिए | इसमें आप ९९% आइसोप्रोपिल अल्कोहल का इस्तेमाल कर सकते हैं | ध्यान में रखें की आपको इसके अलावा किसी और तरह का अल्कोहल जैसे की मेथनॉल या फिर बुटेनॉल का इस्तेमाल नहीं करना है क्यूंकि ये पदार्थ बहुत जहरीले होते है |

हैंड सैनिटाइज़र में कौनसे आयल/तेल का इस्तेमाल करें

अल्कोहल के आलावा अच्छी खुशबु के लिए एसेंशियल आयल (Essential Oil) का इस्तेमाल करें मगर साथ में ये भी ख्याल रखें की इसमें कीटाणु को मारने की शक्ति होनी चाहिए | जैसे की थाइम (Thyme) या फिर लवंग (Clove) के तेल में रोगाणुरोधी तत्त्व होते हैं | इसका इस्तेमाल करने का सही तरीका ये है की आप सैनिटाइज़र में बस २-३ ड्राप ही तेल डालें क्यूंकि इसकी खुशबु बहुत तेज होती है | इसके अलावा आप टी ट्री आयल (Tea Tree Oil), लैवेंडर आयल (Lavender Oil), बबूने का तेल या फिर चमोमील आयल (Chamomile oil) भी ले सकते हैं |आपको साथ में ये ख्याल रखना है की जिस भी तेल का आप उपयोग करें लेकिन वह आपकी त्वचा केलिए अच्छा होना चाहिए |

सामग्री

  • कटोरा और चम्मच
  • कीप
  • बोतल पंप डिस्पेंसर के साथ
  • २/३ कप में ९९% अल्कोहल
  • १/३ कप एलो वेरा जेल
  • ८ से १० आयल ड्रॉप्स

कैसे बनाये हैंड सैनिटाइज़र

हैंड सैनिटाइज़र बनाने से आसान कुछ नहीं है! बस सारे सामग्री को मिला दें और एक कीप की सहायता से बोतल में डाल दें | फिर पंप को बोतल में लगा दें और बस आपका सैनिटाइज़र तैयार है |

  1. ध्यान रखें की आपके पास पहले से अल्कोहल, एलो वेरा जेल और एसेंशियल ऑयल्स होना चाहिए.
  2. सारे सामग्री को एक कटोरे में चम्मच की सहायता से अच्छी तरह मिला दें.
  3. एक कीप के जरिये धीरे धीर सैनिटाइज़र बोतल में दाल दें, और बोतल को अछि तरह से बंध करलें | फिर आप किसी भी वक़्त इसे इस्तेमाल कर सकते हैं

हैंड सैनिटाइज़र का सबसे जरुरी सामान अल्कोहल ही होता है लेकिन आप चाहें तो इसे एलोवेरा जेल से बदल सकते हैं | अल्कोहल से हाथ काफी रूखे हो जाते हैं मगर एलो वेरा हाथ को नरम और मुलायम बनता है | आप ग्लिसरीन और हैंड लोशन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं | फिर भी अल्कोहल कीटाणु से बचाता है इसलिए कमसे कमसे ६०% अल्कोहल सैनिटाइज़र में होना चाहिए | अगर आपके पास नहीं है तो साबुन और पानी से हाथ को बार बार धोएं |

कीटाणुओं से मुक्त रहने केलिए ७०% अल्कोहल का इस्तेमाल करें

अगर आप बाजार से रब्बिंग अल्कोहल और इथेनॉल खरीदने जायेंगे तो इसमें लगभग ९०-९९% या फिर कम से कम ७०% अल्कोहल होता है | आप चाहें तो हाथ को ७०% अल्कोहल वाले हैंड सैनिटाइज़र से धो सकते हैं क्यूंकि इसमें अगर आपने कुछ और चीज़ें मिलायी तो अल्कोहल की मात्रा ६०% से निचे चली जाएगी और इसका असर काफी कम हो जायेगा | आप इसमें जोजोबा आयल मिला सकते है जिससे इसकी खुशबु और टेक्सचर निखर जायेगा, लेकिन जैसा के हमने पहले कहा, ये उतना कारगर नहीं रहेगा।

हाथों की रक्षा करें

अल्कोहल से हाथ बहुत ही रूखे और बेजान हो जाते हैं, इसलिए ये जरुरी है की आप सैनिटाइज़र के इस्तेमाल के बाद हाथों में कोई भी अच्छा हैंड लोशन जरूर लाएं | रूखे हाथों में जल्दी क्रैक्स हो जाते हैं जिस से कीटाणु आसानी से आपके स्किन में घुस सकते हैं और इन्हे निकलना बहुत मुश्किल होता है | अगर आपकी त्वचा बहुत नाज़ुक है तो आप अल्कोहल की मात्रा को ६०-७०% ही रखें वरना स्किन में जलन महसूस हो सकती है |

Related Posts

Leave a Comment